Hindi whatsapp shayari शाम होते ही वो सूरज से हुकूमत छीन लेता है

Hindi whatsapp shayari

शाम होते ही वो सूरज से हुकूमत छीन लेता है,*_
_*सुबह होते ही वो तारो की कियादत छीन लेता है,*_

  1. _*तरीके सीख उसकी ज़मीन पे चलने-फिरने के,*_

_*तकब्बूर करने वालों से वो इज्जत और दौलत छीन लेता है!”

inspirational shayari in hindi

inspirational shayari in hindi

       inspirational shayari in hindi

न  माँग  कुछ जमाने से

          ये देकर फिर सुनाते हैं
किया  एहसान  जो एक बार

           वो लाख बार जताते हैं
है जिनके पास कुछ दौलत

           समझते हैं खुदा हैं हम
तू माँग अपने प्रभु से

           जहाँ माँगने वो भी जाते है